moon in 10th house – दशम भाव में चंद्रमा का फल

दसवें भाव में चन्द्र का फल – moon in 10th house

moon in 10th house – दसवें भाव में अपने शत्रु शनि की राशि पर स्थित चंद्रमा के प्रभाव से जातक का अपने पिताजी से वैमनस्यता बनी रहती है | चूँकि यहाँ पर पिताजी के कर्मानुसार पिता-पुत्र के बीच सदा अनबन बनी रहती है |  

moon in 10th house

परंतु ऐसे जातकों को सरकार द्वारा सम्मान की प्राप्ति होती है | तथा ऐसे व्यक्तियों को सरकारी नौकरी भी शीघ्र ही प्राप्त हो जाती है |    

और यदि ऐसे व्यक्ति व्यवसाय करते हैं तो, वह अपने परिश्रम एवं कार्य कुशलता द्वारा व्यवसाय के क्षेत्र में भी सफलता प्राप्त करते हैं | और अपने क्षेत्र में सम्मान के पात्र बनते हैं |  

सातवीं दृष्टि से चंद्रमा अपनी राशि वाले चतुर्थ भाव को देखता है, अथवा आपको माताजी का पूर्ण सुख तथा सहयोग प्राप्त होगा | और माताजी की सेवा से आप हर क्षेत्र में सफल होते रहेंगे |   

चतुर्थ भाव से भूमि, भवनादि का विचार किया जाता है, इसलिए आपको भूमि, भवन आदि का यथेष्ठ सुख प्राप्त होगा | माताजी के पक्ष से संपत्ति प्राप्ति के भी योग बनते हैं |

ऐसे व्यक्ति अपने परिश्रम द्वारा अपना मकान स्वयं बनाते हैं | यदि चन्द्रमा के ऊपर शुभ ग्रहों की दृष्टि हो तो ऐसे व्यक्ति अनेक भू संम्पत्ति के मालिक होते हैं | और दानी भी होते हैं |

दसवें भाव में चन्द्रमा के उपाय- moon in 10th house

  • आपको धार्मिक स्थलों की यात्रा करनी चाहिए | धार्मिक स्थलों पर किये गए दान-पूण्य से आपके भाग्य की वृद्धि होगी |
  • तीर्थों का जल लाकर अपने घर के ईशान कोण ( पूर्व और उत्तर के कोने को ईशान कहते हैं ) में सुरिक्षित रखें |
  • आपको रात्रि के समय दूध का सेवन नहीं करना चाहिए |
  • मास-मदिरा का सेवन आपके लिए सबसे ज्यादा हानिकारक रहेगा | इससे सर्वदा दूर हो रहें |
  • स्त्रियों में मातृ भाव रखें |
  • दुधारू पशु का पालन न करें | और दूध का व्यवसाय भी नहीं करना चाहिए |

जानिये आपको कौनसा यन्त्र धारण करना चाहिए

जानिये कैसे कराएँ online पूजा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top