Sale!

सात मुखी रुद्राक्ष

Rs.1,700.00 Rs.1,500.00

1)लकवा (Paralysis).

2)दाँतों के रोग.

3)बेवक्त बुढ़ापा.

4)रूखी त्वचा.

5)हड्डियों का कमजोर होना.

6)कैलशियम (Calcium) की कमी.

7)बाल झड़ना.

8)जोड़ों का दर्द तथा सायनस.

Description

7 mukhi rudraksha– सात मुख वाला रुद्राक्ष अनंगस्वरुप और अनंग नाम से हीप्रसिद्ध है। हे देवि उसको धारण करने से दरिद्री भी एश्वर्यशाली हो जाता है। इसमें कोई संदेह नहीं है |

जिन ब्यक्तियों को लम्बे समय से रोग हो दवाई कराने पर फायदा न हो रहाहो,लकवा (Paralysis), दाँतों के रोग, बेवक्त बुढ़ापा, रूखी त्वचा, हड्डियों का कमजोर होना, कैलशियम (Calcium) की कमी, बाल झड़ना, जोड़ों का दर्द तथा सायनस आदि रोग होने पर सात मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिये। इसके धारण करने से उपरोक्त सभी बीमारियों से छुटकारा मिलेगा |

सात मुखी रुद्राक्ष मकर तथा कुम्भ राशि वालों को धारण करना चाहिये। शनि से होने वालीं समस्याए 7 mukhi rudraksha के धारण करने से कम होने लगतीं हैं | यदि आप रुद्राक्ष नहीं पहनना चाहते तो आप शनि यन्त्र पहन सकते हैं | यन्त्र प्राप्त करने के लिए शनि यन्त्र पर किलिक करें |

सात मुखी रुद्राक्ष को सिद्ध करने का मंत्र – ॐ हुं नमः ॥

रुद्राक्ष के फायदे – रुद्राक्ष धारण करने वाले मनुष्य को देखकर भूत,प्रेत,पिशाच,डाकिनी,शाकिनी तथा जो अन्य द्रोहकारी राक्षस होते हैं वे सब डरकर भाग जाते हैं। जो कृत्रिम अभिचार आदि होते हैं वे रुद्राक्ष धारण करने वाले के पास नहीं आते या जिनके ऊपर अभिचार कर्म किया गया हो वे रुद्राक्ष धारण करते ही अभिचार कर्मों से मुक्त हो जाते हैं।