Surya gochar makar Rashi 2020

सूर्य का गोचर मकर राशि में 15 जनवरी 2020

गोचर किसे कहते हैं –

(Surya gochar makar rashi) गोचर का अर्थ होता है ग्रहों का चलना, गो अर्थात तारा जिसे हम नक्षत्र या ग्रह के रूप में जान सकते हैं या समझते हैं | और चर का मतलब होता है चलना, इस तरह गोचर का संपूर्ण अर्थ निकलता है ग्रहों का चलना | ज्योतिष की दृष्टि में सूर्य से लेकर राहु-केतु तक सभी ग्रह, अपनी-अपनी गति से चलते हैं | और अपनी अपनी गति के अनुसार ही, सभी ग्रह राशि चक्र में भ्रमण करने में अलग-अलग समय लेते हैं | नवग्रहों में चंद्र का गोचर सबसे कम अवधि का होता है | क्योंकि इसकी गति सबसे तेज होती है | जबकि शनी की गति सबसे मंद होने के कारण शनि गोचर में सबसे अधिक समय लेता है |

गोचर से फल कैसे जानें –  (Surya gochar makar rashi )

ग्रह अलग-अलग राशियों में भ्रमण करते हैं, और ग्रहों के भ्रमण का जो प्रभाव राशियों पर पड़ता है उसे गोचर फल कहते हैं | गोचर फल को ज्ञात करने का सर्व सामान्य नियम यही है, कि जिस राशि में जन्म के समय चंद्रमा हो वही आपकी अपनी जन्म राशि मान लेना चाहिए | उसके बाद क्रम के अनुसार राशियों को बैठाकर कुंडली तैयार कर लेनी चाहिए | इसे हम चंद्र कुंडली कहते हैं | अर्थात गोचर का फल हमें चंद्र कुंडली से देखना चाहिए | इस कुंडली में जिस दिन का फल देखना हो, उस दिन ग्रह जिस राशि में हो उस अनुरूप ग्रहों को बैठा देना चाहिए | इसके पश्चात ग्रहों की दृष्टि एवं युति के आधार पर उस दिन का गोचर फल ज्ञात करना चाहिए |

ग्रहों का राशियों पर भ्रमण काल –

ग्रहों का राशियों में भ्रमण का जो समय होता है वह सूर्य, बुध, शुक्र इन तीन ग्रहों का भ्रमण का लगभग 1 माह का होता है | चंद्र का भ्रमण सवा 2 दिन का होता है | मंगल का भ्रमण 57 दिन करीब का होता है | गुरु का 13 महीने करीब का होता है | और राहु और केतु इन का भ्रमण डेढ़ वर्ष का रहता है | किन्तु राहु और केतु सदैव वक्री रहते हैं | अर्थात ये सदा उल्टे चलते हैं- जैसे की मेष राशि में है तो, मेष राशि से वृषभ में ना जाकर मीन राशि पर जाएंगे | मीन से कुंभ में कुंभ से मकर में मकर से धनु में इस प्रकार यह विपरीत दिशा में चलते हैं | और शनि का भ्रमण ढाई वर्ष करीब का होता है |

आइए जानते हैं सूर्य के मकर राशि में प्रवेश का किस राशि पर क्या प्रभाव पड़ता है –

Surya gochar makar rashi 2020
Surya gochar makar rashi 2020

(Surya gochar makar rashi ) – 15 जनवरी प्रातः 2:20 पर सूर्य शनि की मकर राशि में, सूर्य के उत्तराषाढ़ा नक्षत्र के द्वितीय चरण में प्रवेश कर रहे हैं | आइए जानते हैं सूर्यदेव का मकर राशि में प्रवेश किस राशि वालों को क्या फल मिलता है |

मेष राशि – दशम भाव में शत्रु शनि की राशि में सूर्य का गोचर सरकारी कार्यों में अवरोध उत्पन्न करेगा | पिता-पुत्र में मनमुटाव बढ़ेगा, किंतु शिक्षा में सफलता मिलेगी | भूमि भवन वाहन आदि का सुख प्राप्त होगा | आय भी प्रभावित होगी, जोड़ों से संबंधित रोगों से परेशानी होगी |

वृषभ राशि – वृषभ राशि वाले व्यक्ति भाग्य और उन्नति को लेकर बहुत ही व्यग्र रहेंगे | प्रत्येक कार्य में जल्दबाजी रहेगी | कोई छोटी मोटी यात्रा हो सकती है | स्वास्थ्य उत्तम रहेगा, किंतु पढ़ाई में बहुत अच्छा मन नहीं लगेगा |

मिथुन राशि – मिथुन राशि वालों को शारीरिक कष्ट के योग बन रहे हैं | विशेषकर चोट चपेट दुर्घटना से बचें, वाहन आदि सावधानीपूर्वक चलाएं | स्वास्थ्य का पूर्ण ध्यान रखें | धन आगमन बना रहेगा, किन्तु व्यय भी अधिक होगा |

कर्क राशि – कर्क राशि वालों के लिए समय अच्छा नहीं है | दांपत्य जीवन में तनाव बढ़ेगा, मित्रों से भी अनबन होगी | व्यापार में निरंतर घाटा लगने के योग बन रहे हैं | क्रोध पर संयम रखें | बात-बात पर गुस्सा बहुत आएगा कोशिश करें कि कम बात करें |

सिंह राशि – सिंह राशि वालों को सिर, आंखें तथा पेट से संबंधित रोग होने की संभावना है | उपरोक्त चीजों का विशेष ध्यान रखें | क्रोध पर संयम रखें, शत्रुता से बचें | इस अवधि में कर्ज ना लें ना कर्ज दें | किसी भी कार्य को करने से पहले परिवार के बुजुर्गों की सलाह अवश्य लें |

कन्या राशि – कन्या राशि वालों का मन बहुत उदास रहेगा | स्वास्थ्य भी अनुकूल नहीं रहेगा | विशेषकर पेट से संबंधित रोग होने की संभावना है, खानपान का विशेष ध्यान रखें | अपने आप को शीत से बचाएं | वैसे कन्या राशि वालों को लाभ पर्याप्त होगा, आय के क्षेत्र में नए स्रोत बनेंगे | महिलाओं का सम्मान करें किसी महिला से विवाद ना करें |

तुला राशि – तुला राशि वालों को सफलता बहुत अच्छी मिलेगी | भूमि भवन से संबंधित किसी भी प्रकार के विचाराधीन मामलों में अच्छी सफलता प्राप्त होने के योग बन रहे हैं | मन बहुत प्रसन्न रहेगा | धन लाभ होगा किसी महिला वर्ग का सहयोग प्राप्त होगा | किसी भी शुभ कार्य को जाने से पहले किसी कन्या को कुछ भेंट उपहार आदि देकर प्रस्थान करें |

वृश्चिक राशि – वृश्चिक राशि वालों के लिए समय बहुत अनुकूल है | भाग्य अच्छा साथ देगा | जो व्यक्ति भाग्य उन्नति के लिए प्रयास कर रहे हैं, उन्हें बहुत अच्छी सफलता मिलेगी | मन बहुत प्रसन्न रहेगा | कोई छोटी मोटी यात्रा हो सकती है | यात्रा सुखद एवं लाभप्रद रहेगी | वस्त्र आभूषण आदि खरीदने का भी योग बन रहा है |

धनु राशि – धनु राशि वालों को स्थाई लाभ होने के प्रबल योग बन रहे हैं | भाग्य आपका अच्छा साथ देगा | इस समय आप जो भी कार्य करेंगे, सभी कार्यों में आपको अच्छी एवं स्थाई सफलता प्राप्त होगी | किंतु स्वास्थ्य का ध्यान रखें थोड़ा बहुत शारीरिक कष्ट हो सकता है |

मकर राशि – मकर राशि वालों के मन में एक नई उमंग नया उत्साह रहेगा | सफलता के लिए संघर्ष करेंगे, प्रयास करेंगे सफलता अच्छी मिलेगी | धन लाभ होने की भी प्रबल योग बन रहे हैं | किंतु मित्रों से वाद-विवाद से बचें, एवं दांपत्य जीवन में सामंजस्यता बनाए रखें |

कुंभ राशि – कुंभ राशि वाले व्यय बहुत सोच-समझकर करें | अत्यधिक व्यय होने के योग बन रहे हैं | ध्यान रखें इस अवधि में किसी को कर्ज ना दें, आप जिसे पैसे देंगे वापस प्राप्त नहीं होंगे | रोगों से सावधान रहे, विशेषकर शीत से अपने आपकी पूरी सुरक्षा करें |

मीन राशि – मीन राशि वालों को शिक्षा के क्षेत्र में बहुत अच्छी सफलता प्राप्त होगी | लाभ के नए-नए स्रोत बनेंगे, लाभ भी अच्छा होगा | किंतु थोड़ा विलंब से होगा | धैर्य धारण करें, व्यय करते समय विचार पूर्वक व्यय करें | बिना सोचे समझे किसी भी प्रकार की खरीद न करें | संभव हो तो किसी बड़े बुजुर्ग की सलाह लें |

सूर्य के उपाय – गुड, मसूर दाल, लाल वस्त्र, तांवा, आदि का दान करें | कुवांरी कन्याओं को मीठा भोजन करायें | लक्ष्मी नारायण मंदिर में श्रद्धा अनुसार दान दें | आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ करें | तांवे के लोटे में जल में तीर्थ जल एवं शहद मिलकर सूर्य को जल दें |

जानिये आपको कौनसा यन्त्र धारण करना चाहिए ?

जानें कैसे कराएँ online पूजा ?

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of