Shani Yantra - शनि यंत्र

Rs.700.00

1)लम्बे समय से रोग हो दवाई कराने पर फायदा न हो रहा हो.

2)लकवा (Paralysis).

3)दाँतों के रोग.

4)बेवक्त बुढ़ापा.

5)रूखी त्वचा.

6)हड्डियों का कमजोर होना.

7)कैलशियम (Calcium) की कमी.

8)बाल झड़ना.

9)जोड़ों का दर्द.

10)सायनस आदि.

Call to Pandit Rajkumar Dubey (+91 7470 934 089) For Free Consultation about this Product.

100% प्राण प्रतिष्ठित !

Sale!

शनि यंत्र के फायदे shani yantra locket

(Benefits of shani yantra locket)- शनि यंत्र के फायदे – जिन ब्यक्तियों को लम्बे समय से रोग हो दवाई कराने पर फायदा न हो रहा हो, लकवा (Paralysis), दाँतों से सम्बंधित किसी प्रकार के रोग, या आ रहा है बेवक्त बुढ़ापा,  क्या आपकी स्किन रुखी रहती है | हड्डियों का कमजोर होना, कैलशियम (Calcium) की कमी, बाल झड़ना, जोड़ों का दर्द तथा सायनस आदि रोग होने पर यह यंत्र धारण करना चाहिये। इसके धारण करने से उपरोक्त सभी बीमारियों से छुटकारा मिलेगा |

शनि के प्रभाव

ज्योतिष शास्त्र में शनि  एक धीमी गति वाला, मंजिल के पति समर्पित, सोच समझकर कार्य करने वाला, मकर और कुम्भ राशि का स्वामी है | शनि के अधिकार में पुष्य, अनुराधा और उत्तराभाद्रपद यह तीन नक्षत्र आते हैं | शनि लम्बे समय तक चलने वाली बीमारियाँ देता है | जैसे लकवा, अस्थमा, केन्सर, दांतों के रोग, वेबक्त बुढ़ापा, हमेशा तकलीफ देने वाली त्वचा की बीमारियाँ, रुखी त्वचा, हड्डियों की टी.बी., कैल्शियम की कमी, बाल झडना, जोड़ों में दर्द अनेक रोग उत्पन्न होते हैं |

शनि का बिपरीत गोचर जातक के व्यापार, नौकरी आदि पर बिपरीत प्रभाव डालता है | जैसे अचानक चलते-चलते व्यापार का रुक जाना, नौकरी में अचानक अड़चने उतपन्न होने लगना, मित्र शत्रु बन जाना, पारिवारिक विवाद शुरू हो जाना, पति पत्नी में कलह आदि अनेक प्रकार की समस्याएँ उतपन्न करता है |

किसे धारण करना चाहिये शनि यंत्र   (Who should wear shani yantra locket)-  मकर एवं कुम्भ राशि वालों को, मकर तथा कुम्भ लग्न वालों को, तथा जिनकी शनि की महादशा चल रही हो उनको यह यंत्र धारण करना चाहिये।

शनि यंत्र का निर्माण –(shani yantra locket)

(Construction of shani yantra locket ) – शनिवार के दिन शनि की होरा में चंदन, गौलोचन, केशर, तथा कोयला की स्याही से लोहे की कलम से भोजपत्र पर निर्माण किया जाता है । तत्पश्चात प्राण प्रातिष्ठा कर शनि यंत्र की विधिवत पूजन करने के बाद तांत्रिक मंत्र का जाप किया जाता है क्योंकि बिना मन्त्र के यन्त्र प्रभावी नहीं होता | इसलिए मन्त्र का जाप कर यन्त्र को प्रभावशाली बनाया जाता है | फिर हवन किया जाता है |

यंत्र मंगाने की विधि – जिस व्यक्ति के लिए यन्त्र धारण करना है, उस व्यक्ति का नाम, पिता/पति का नाम तथा गोत्र  (7470 9 3408 9) Whatsapp नम्बर पर भेजें | यन्त्र निर्माण के बाद आपके दिए पते पर पोस्ट ऑफिस द्वारा भेज दिया जायेगा |

आपकी कुण्डली में जन्म के समय शनि की क्या स्थिति है तथा गोचर में वर्त्तमान में शनि आपके ऊपर क्या प्रभाव डालेगा तथा उपरोक्त समस्याओं के लिए क्या upay करना चाहिए इस प्रकार की समस्त जानकारी के लिए आप शनि गोचर रिपोर्ट प्राप्त करें | गोचर रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए शनि गोचर रिपोर्ट पर किलिक करें |

जानें कैसे कराएँ online पूजा ?

Enter Your Birth Details

Call Now Button