vrat tyohar

sankashti chaturthi 2021

Sankashti Chaturthi 2021

संकष्टी चतुर्थी 2021 Sankashti Chaturthi 2021 – हमारे हिन्दू धर्म में सभी व्रतों की गणना चन्द्र मास से की जाती है  और चन्द्र माह में दो पक्ष होते हैं | प्रथम कृष्ण पक्ष एवं दूसरा शुक्ल पक्ष के नाम से जाना जाता है | तिथियों के अनुसार एक माह में एक तिथि दो बार आती …

Sankashti Chaturthi 2021 Read More »

pradosh vrat 2021

Pradosh Vrat 2021-प्रदोष व्रत 2021

प्रदोष व्रत 2021 लिस्ट Pradosh Vrat 2021 – प्रदोष व्रत चन्द्र माह की त्रयोदशी को किया जाता है | यह व्रत वर्ष में 24 बार आता है | चन्द्र मास की कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की दोनों त्रयोदशी को यह व्रत किया जाता है | यह व्रत कलियुग में शिवजी की कृपा प्रदान करने …

Pradosh Vrat 2021-प्रदोष व्रत 2021 Read More »

Ekadashi 2021 list

Ekadashi 2021 list-एकादशी व्रत 2021

एकादशी व्रत 2021 लिस्ट   Ekadashi 2021 list – हमारे चन्द्र मास के अनुसार प्रत्येक माह में दो पक्ष होते हैं जिनके प्रथम पक्ष को कृष्ण पक्ष और दुसरे पक्ष को शुक्ल पक्ष कहते हैं | इन दोनों पक्षों की एकादशी में व्रत किया जाता है | पूरे वर्ष में 24 एकादशी होती हैं किन्तु …

Ekadashi 2021 list-एकादशी व्रत 2021 Read More »

pitru tarpan vidhi

Pitru Tarpan Vidhi-पितृ तर्पण विधि एवं मन्त्र

पितृ तर्पण की सम्पूर्ण विधि मन्त्रों सहित Pitru Tarpan Vidhi – भाद्रपद पूर्णिमा से लेकर अश्वनि अमावस्या तक पितर पक्ष 16 दिन का होता है इस अवधि में लोग अपने पितरों का श्रद्धा पूर्वक स्मरण करते हैं | और उनके लिए पिण्ड दान करते हैं | इसे सोलह श्राद्ध भी कहा जाता है | पितर …

Pitru Tarpan Vidhi-पितृ तर्पण विधि एवं मन्त्र Read More »

anant chaturdashi

Anant chaturdashi-अनंत चतुर्दशी व्रत कथा

अनंत चतुर्दशी व्रत विधि एवं कथा Anant chaturdashi vrat – इस व्रत को प्रातः काल अर्थात उदया तिथि लेना चाहिए, क्योंकि प्रातः काल का सही पूजन का समय रहता है | क्योंकि ब्रह्म पुराण में लिखा है कि जो एकाग्र चित्त से प्रातः काल अनंत का पूजन करता है वह भगवान की कृपा से अनंत …

Anant chaturdashi-अनंत चतुर्दशी व्रत कथा Read More »

ganga dussehra ka mahatva

ganga dussehra ka mahatva-गंगा दशहरा पूजन विधि एवं कथा

गंगा दशहरा पूजन विधि एवं कथा ganga dussehra ka mahatva – गंगा जी देव नदी हैं, वह मनुष्य मात्र के कल्याण के लिए धरती पर आयीं | धरती पर उनका आगमन “जेष्ठ शुक्ल पक्ष की दशमी” को हुआ था | अतः  यह तिथि उनके नाम पर गंगा दशहरा के नाम से प्रसिद्ध हुई | दशमी …

ganga dussehra ka mahatva-गंगा दशहरा पूजन विधि एवं कथा Read More »

Vat Savitri Vrat Katha

Vat Savitri Vrat Katha-वट सावित्री व्रत विधि एवं कथा

वट सावित्री व्रत विधि कथा एवं महत्त्व  Vat Savitri Vrat Katha – वट वृक्ष को देव वृक्ष माना गया है | शास्त्रों में वर्णन मिलता है कि वटवृक्ष के मूल (जड़) में भगवान ब्रह्मा मध्य में भगवान विष्णु तथा अग्र भाग में भूत भावन भगवान भोलेनाथ स्थित रहते हैं | देवी सावित्री भी वटवृक्ष में …

Vat Savitri Vrat Katha-वट सावित्री व्रत विधि एवं कथा Read More »

vasant panchami 2020

Vasant Panchami 2020-वसन्त पंचमी

वसंत पंचमी सरस्वती पूजा 2020 (vasant panchami 2020) वसंत पंचमी हमारे भारत देश का एक प्रसिद्ध त्योहार माना जाता है | इस दिन विद्या की देवी माता सरस्वती जी की पूजा की जाती है | इस त्यौहार को अनेक रूपों में मनाया जाता है | बसंत पंचमी से वसंत ऋतु का आगमन होता है | …

Vasant Panchami 2020-वसन्त पंचमी Read More »

makar sankranti kab hai

makar sankranti kab hai-मकर संक्रांति 2020

मकर संक्रांति 2020 – (makar sankranti kab hai) – सूर्य का मकर राशि में प्रवेश करना ‘मकर संक्रांति’ कहलाता है। इसी दिन सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं। शास्त्रों में उत्तरायण की अवधि को देवताओं का दिन तथा दक्षिणायन को देवताओं की रात्रि कहा जाता है। इस तरह मकर सन्क्रांति एक प्रकार से देवताओं का प्रभात …

makar sankranti kab hai-मकर संक्रांति 2020 Read More »

teej kab hai

Teej kab hai हरितालिकाव्रत कथा (तीज)

सुहागिनों के अखण्ड सौभाग्य का रक्षक हरितालिकाव्रत (तीज) Teej kab hai – हमारे हिन्दू धर्मानुसार उदया तिथि को माना जाता है, इस वर्ष 21 अगस्त 2020 शुक्रवार को हरतालिका व्रत मनाया जाएगा | यह व्रत पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार और झारखण्ड आदि प्रांतों में भद्रपद शुक्ल तृतीया को सौभाग्यती स्त्रियाँ अपने अखण्ड सौभाग्य …

Teej kab hai हरितालिकाव्रत कथा (तीज) Read More »

Scroll to Top