चन्द्र का तृतीय भाव में फल – moon in 3rd house

तृतीय भाव में चंद्रमा का फल -moon in 3rd house

moon in 3rd house – तीसरे भाव में मित्र बुध की राशि पर स्थित चंद्रमा के प्रभाव से जातक के पराक्रम में वृद्धि होती है | आपको अपने छोटे भाई-बहनों या इनके तुल्य व्यक्तियों का भर उठाना पड़ेगा | इनकी पूर्ति करनी पड़ेगी वो किसी प्रकार से हो |

moon-in-3rd-house-1

चौथे घर का स्वामी होने के कारण चंद्रमा जातक को भूमि, भवन, वाहन आदि का सुख भी देता है | परन्तु चतुर्थ भाव से तीसरा भाव बारहवां होता है, इस कारण उपरोक्त सुख के लिए आपको अधिक परिश्रम तथा अधिक धन खर्च करना पड़ेगा |

क्योंकि चन्द्रमा बुध को मित्र मानता है परन्तु बुध चन्द्रमा को शत्रु मानता है इसलिए चन्द्रमा बुध के घर में बैठ कर बहुत अच्छा फल नहीं दे पाता | कभी-कभी ऐसे जातकों को चर्म रोग से पीड़ित भी पाया गया है | और पेट दर्द की समस्या भी होते देखि गयी है |

Moon in 3rd house

सातवीं दृष्टि से मित्र गुरु की राशि से नवे भाव को देखने के कारण जातक का भाग्योदय बहुत ही जल्दी हो जाता है | तथा अल्प परिश्रम में ही अच्छी सफलता मिलती है |

ऐसे व्यक्ति धर्मात्मा, उदार, दानी, विद्वान, भाग्यवान तथा यशस्वी भी होता है | चन्द्र और बुध यदि शुभ ग्रह से युत या दृष्ट हों तो इस प्रकार के ग्रह स्थिति वाले जातक जीवन में अनेक प्रकार की सफलताएं प्राप्त करते हैं |

तृतीय भाव में स्थित चन्द्र के उपाय – (moon in 3rd house)

  • यदि कन्याएं ही प्राप्त हो रहीं हो तो कन्या जन्म के बाद सूर्य की बस्तुओं का दान करना चाहिए |
  • बेटी के ससुराल में भोजनादि नहीं करना चाहिए |
  • ब्राम्हण भोजन में दूध से बने पकवानों का ज्यादा उपयोग करना चाहिए |
  • दुर्गा द्वात्रिश्न्न माला का पाठ करना चाहिए |
  • कन्याओं को भोजन कराकर उनका आशीर्बाद लेना चाहिए |
  • पुत्र की कामना के लिए कन्याओं के चरण धोकर चरणामृत लेकर उनका आशीर्बाद लेना चाहिए |
  • चारों नवरात्री में व्रत करना चाहिए |  

जानें आपको कौनसा यन्त्र धारण करना चाहिए

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top